पोस्ट

How to send Rahu mantra from my mobile to friend Mobile?

इमेज
How to send Rahu mantra from my mobile to friend Mobile? If your friends are social media  users then you could share these mantras to your friend, by Facebook, WhatsApp, Instagram, twitter etc. I'd also suggest trying Mix cloud. Although your mixes would need to be a minimum of 8 tracks if just music. Mantras :-  Om namo arhate bhagwate srimate nemi tirthkaray sravanhyaksh kushmandiyakshi sahitay om aan karoun him han rahumahagrahe mam dushtagrah roga kashta nivaran sarv shanti ch kuru kuru hum fat . ॐ नमो अर्हते भगवते श्रीमते नेमि तीर्थंकराय सर्वाण्हयक्ष कुष्मांडीयक्षी सहिताय ॐ आं क्रौं ह्रीं ह्र: राहुमहाग्रह मम दुष्टग्रह, रोग कष्ट निवारणं सर्व शान्तिं च कुरू कुरू हूं फट्।।

मंगल ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय Has The Answer To Everything.

इमेज
मंगल ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय ज्योतिष शास्त्र  में  मंगल ग्रह  पराक्रम और ऊर्जा  का कारक कहा गया   है। मंगल ग्रह शांति के समाधान  बताये गए हैं। इनमें मंगलवार का व्रत करना , हनुमान जी की आराधना करना  और सुंदर कांड का नियमित पाठ करना आदि प्रमुख है। कुंडली   में मंगल की शुभ स्थिति में  होने से शारीरिक स्वास्थ्य , भूमि-वाहन , भाई का , घर  का सुख प्राप्त होता  है। परन्तु यदि कुंडली में  मंगल अशुभ स्थिति में होने से रक्त और अस्थिमज्जा सम्बंधित रोग होते हैं। यदि मंगल का अशुभ फल मिल रहा है, तो मंगल से संबंधित उपाय करना चाहिए, जो आगे बताया गया है । मंगल ग्रह शांति के लिए मंगल यंत्र की स्थापना, मंगलवार को मंगल से संबंधित वस्तु का दान, जैसे लाल वस्तु, मसूर दाल, गुड़, बंदरो केला खिलाना, अनंत मूल की जड़ धारण करना चाहिए  आदि ।    इनके अलावा  कुछ उपाय  वैदिक ज्योतिष में मंगल ग्रह   से संबंधित  उपाय बताये गये हैं।     वस्त्र एवं जीवन शैली से सम्बंधित मंगल ग्रह की शांति के उपाय लाल, गेरुआ और तांब्र कलर के वस्त्र धारण करें। प्रतिदिन सुबह में धरती को प्रणाम करे , आशीर्वाद लें, तथा  सैनिको का सम

This Week's Top Stories About बुध ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय

इमेज
बुध ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय बुध ग्रह को बुद्धि, और त्वचा का कारक कहा जाता है। बुध एक शुभ ग्रह है लेकिन क्रूर ग्रह के संगम से यह अशुभ फल देता है।  बुध ग्रह   शांति के लिए कई उपाय शाश्त्र  में वर्णित हैं। इनमें बुध यंत्र की स्थापना, बुधवार का व्रत, बुधवार को भगवान गणेश  का पूजन और विधारा की जड़ धारण करना आदि प्रमुख उपाय हैं।  कुंडली   में बुध खराब होने  से त्वचा संबंधी विकार, शिक्षा में एकाग्रता की कमी, यादाश्त कमज़ोर, गणित में कमजोरी और लेखन कार्य में परेशानी आती है।  बुध के हमारे कुंडली में  शुभ होने  से बुद्धि का विकाश , व्यापार में बढ़ोत्तरी , बातचीत की कला  निपुणता और शिक्षा में उन्नति मिलती है। यदि आप बुध के अशुभ प्रभाव से पीड़ित हैं तो तुरंत बुध ग्रह शांति के लिए ये उपाय करें। वस्त्र  एवं जीवन शैली से जुड़े बुध ग्रह के उपाय   हरा रंग  के सभी शेड्स के कपड़े पहन सकते हैं। बहन, बेटी अथवा छोटी कन्या का सम्मान करें। नाक छिदवाए । बहन को उपहार भेंट करें। व्यापार में ईमानदार रहें। सुबह किये जाने वाले बुध ग्रह के उपाय भगवान गणेश  की आराधना करें। श्री विष्णुसहस्रनाम स्तोत्र का जा

What is शनि ग्रह के शांति के उपाय and Why Does it Matter?

इमेज
|| श्री गणेशाय नमः ||  शनि ग्रह के शांति के उपाय वैदिक ज्योतिष के अनुसार शनि  को क्रूर ग्रह बताया गया  है, परन्तु  शनि शत्रु नहीं बल्कि मित्र ग्रह भी  है। शनि देव को ग्रहों में  न्यायाधीश की पदवी प्राप्त हैं और लोगों को उनके कर्मों का फल देते हैं। शनि देव अच्छे लोगो के लिए बहुत अच्छे परन्तु बुरे और पापियों के लिए क्रूर है उन्हें बुरे कर्मो का दंड शीघ्र देते है। शनि ग्रह के शांति के उपाय के लिए, उनकी क्रूरता से बचने के कई उपाय शास्त्रों में वर्णित है जिसमे से कुछ उपाय जो की शनि ग्रह के शांति के लिए हैं। आपके लिए लेकर आये है ताकि आप शनि देव की क्रूरता से, शनि ग्रह के शांति के उपाय करके उनकी शुभता का आशीर्वाद ले सके।  इनमें शनिवार का व्रत, हनुमान जी की पूजा-आराधना, शनि-मंत्र, शनि-यंत्र, और अपनी छाया का दान करना आदि प्रमुख  शनि ग्रह के शांति के  उपाय हैं। चुकि शनि देव हमारे  कर्म भाव का स्वामी होते है इसलिए शनि के शुभ प्रभाव से नौकरी और व्यवसाय, और भाग्य में वृद्धि  होकर तरक्की मिलती है। शनिदेव को भाग्य का स्वामी भी कहा गया है। शनि देव कर्मो के अनुसार भाग्य का निर्माण करते है

How to Do राहु ग्रह के शांति के आसान उपाय ?

इमेज
|| श्री गणेशाय नमः ||  राहु ग्रह के शांति के आसान उपाय वैदिक ज्योतिषशास्त्र  के अनुसार  राहु ग्रह   एक क्रूर ग्रह की श्रेणी में आता  है। कुंडली में राहु को सर्वाधिक अशुभ होने से मानसिक तनाव, आर्थिक नुकसान, असाध्य  बीमारियाँ, झगड़े, दुर्घटना, और धन की कमी का सामना करना पड़ता है। परन्तु यही राहु ग्रह कुंडली में शुभ हो तो व्यक्ति को राजा बना देता है, राहु सफलता की सर्वोच्च उचाई प्रदान करता है, व्यक्ति सर्वोच्च पदों पर आसीन होते है ,  वही राहु को राजनितिक सफलता का कारक माना गया है। कुंडली में राहु जिस भी राशि में हो उस राशि का राशिपति अगर शुभ भाव में उच्च हो तो इस स्थति में राहु अच्छा परिणाम देता है। यदि आपकी कुंडली में राहु अशुभ हो तो ऐसी स्थिति में राहु ग्रह शांति के लिए उपाय किये जाते हैं। राहु ग्रह शांति के लिए कई उपाय बताये गये हैं। इनमें राहु से संबंधित वस्तु का दान, जैसे, रत्न (गोमेद), राहु यंत्र, राहु मंत्र और जड़ी धारण करना प्रमुख उपाय में  हैं। ऐसी मान्यता है कि राहु के शुभ प्रभाव  प्राप्त होने के कारण व्यक्ति रातों-रात रंक से राजा बन जाता है, वहीं अशुभ फल प्राप्त होन