This Week's Top Stories About बुध ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय



बुध ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय

बुध ग्रह को बुद्धि, और त्वचा का कारक कहा जाता है। बुध एक शुभ ग्रह है लेकिन क्रूर ग्रह के संगम से यह अशुभ फल देता है। बुध ग्रह शांति के लिए कई उपाय शाश्त्र  में वर्णित हैं। इनमें बुध यंत्र की स्थापना, बुधवार का व्रत, बुधवार को भगवान गणेश  का पूजन और विधारा की जड़ धारण करना आदि प्रमुख उपाय हैं। कुंडली  में बुध खराब होने  से त्वचा संबंधी विकार, शिक्षा में एकाग्रता की कमी, यादाश्त कमज़ोर, गणित में कमजोरी और लेखन कार्य में परेशानी आती है।  बुध के हमारे कुंडली में  शुभ होने  से बुद्धि का विकाश , व्यापार में बढ़ोत्तरी , बातचीत की कला  निपुणता और शिक्षा में उन्नति मिलती है। यदि आप बुध के अशुभ प्रभाव से पीड़ित हैं तो तुरंत बुध ग्रह शांति के लिए ये उपाय करें।

वस्त्र  एवं जीवन शैली से जुड़े बुध ग्रह के उपाय 

  • हरा रंग  के सभी शेड्स के कपड़े पहन सकते हैं।
  • बहन, बेटी अथवा छोटी कन्या का सम्मान करें।
  • नाक छिदवाए ।
  • बहन को उपहार भेंट करें।
  • व्यापार में ईमानदार रहें।

सुबह किये जाने वाले बुध ग्रह के उपाय

  • भगवान गणेश  की आराधना करें।
  • श्री विष्णुसहस्रनाम स्तोत्र का जाप करें।

बुध ग्रह के व्रत

  • व्यापार में बढ़ोत्तरी एवं  धन लाभ हेतु  बुधवार के दिन व्रत  करें।

बुध ग्रह शांति के लिये दान 

  • आप बुध ग्रह से संबंधित वस्तुओं को बुधवार को दान करना चाहिए।

दान की  वस्तुएँ :- चारा, घास, साबुत मूंग, पालक,  हरे कपड़े, हाथी के दांतों से बनी वस्तुएँ इत्यादि।

बुध के लिए रत्न

  • ज्योतिष शास्त्रों  में बुध ग्रह शांति के लिए  पन्ना रत्न  धारण करने को कहा गया  है। पन्ना को पहनने से जातक को अच्छे फल प्राप्त होते हैं। बुध प्रधान राशि मिथुन  और कन्या राशि के जातकों के लिए पन्ना रत्न अतिशुभ माना गया है।

श्री बुध यंत्र

 बुध की महादशा में अभिमंत्रित बुध रत्न को बुध की होरा और बुध के नक्षत्र के समय धारण करना चाहिए।
रुद्राक्ष 
दस मुखी रुद्राक्ष धारण करने हेतु मंत्र:
  • ॐ ह्रीं नमः।
  • ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्रीं।।

बुध मंत्र


  •  बुध के  मंत्र को  9 हजार बार जपना चाहिए। हालाँकि शास्त्रों  के अनुसार कलयुग में इस मंत्र को 36 हजार  बार जपने के लिए कहा गया है। 
  • ॐ बुं बुधाय नमः 
  •  ॐ ऐं श्रीं श्रीं बुधाय नमः!
बुध ग्रह संबधित  उपयुक्त कोई भी उपाय करने से निश्चित ही आपको बुध ग्रह के शुभ फल प्राप्त होंगे और आपकी बौद्धिक, तार्किक एवं गणना शक्ति में वृद्धि होगी। इसके साथ ही आपकी बातचीत की  शैली में सुधार आता है । इस लेख में दिए गए मजबूत बुध के टोटके पूर्ण रूप से वैदिक ज्योतिष पर आधारित हैं। 
ज्योतिष में बुध ग्रह को एक तटस्थ ग्रह माना गया है, अथार्त जिस ग्रह के साथ बैठता है उसी अनुसार यह फल देता है । वैदिक शास्त्रों में बुध ग्रह का संबंध भगवान गणेशजी से  माना गया है। बुध ग्रह का वर्ण हरा है इसलिए बुध ग्रह शांति के लिए हरे रंग के कपड़ों को धारण अथवा दान किया जाता है। बुध ग्रह मिथुन और कन्या राशि का अधिपति है। इसलिए इन राशि के जातकों को बुध ग्रह शांति के उपाय को अवश्य ही करना चाहिए।

Comments

Popular posts from this blog

श्री हनुमान चालीसा : Do Really Need It? This Will Help You Decide!

What Everyone Must Know About Surya || सूर्य नमस्कार मंत्र, सूर्य देव को प्रसन्न करने के अचुक मंत्र