मंगल ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय Has The Answer To Everything.

Ganesha Vector Shadow Transparent & PNG Clipart Free Download - YWDGanesha Illustrations, Royalty-Free Vector Graphics & Clip Art ...Ganesha Vector Shadow Transparent & PNG Clipart Free Download - YWD

मंगल ग्रह शांति, मंत्र एवं उपाय

ज्योतिष शास्त्र  में  मंगल ग्रह  पराक्रम और ऊर्जा  का कारक कहा गया  है। मंगल ग्रह शांति के समाधान  बताये गए हैं। इनमें मंगलवार का व्रत करना , हनुमान जी की आराधना करना  और सुंदर कांड का नियमित पाठ करना आदि प्रमुख है। कुंडली  में मंगल की शुभ स्थिति में  होने से शारीरिक स्वास्थ्य , भूमि-वाहन , भाई का , घर  का सुख प्राप्त होता  है। परन्तु यदि कुंडली में  मंगल अशुभ स्थिति में होने से रक्त और अस्थिमज्जा सम्बंधित रोग होते हैं। यदि मंगल का अशुभ फल मिल रहा है, तो मंगल से संबंधित उपाय करना चाहिए, जो आगे बताया गया है । मंगल ग्रह शांति के लिए मंगल यंत्र की स्थापना, मंगलवार को मंगल से संबंधित वस्तु का दान, जैसे लाल वस्तु, मसूर दाल, गुड़, बंदरो केला खिलाना, अनंत मूल की जड़ धारण करना चाहिए आदि  इनके अलावा  कुछ उपाय  वैदिक ज्योतिष में मंगल ग्रह  से संबंधित  उपाय बताये गये हैं। 

 

 वस्त्र एवं जीवन शैली से सम्बंधित मंगल ग्रह की शांति के उपाय

  • लाल, गेरुआ और तांब्र कलर के वस्त्र धारण करें।
  • प्रतिदिन सुबह में धरती को प्रणाम करे , आशीर्वाद लें, तथा  सैनिको का सम्मान करें।
  • भाई के साथ मधुर व्यवहार बनाए रखें।
  • मंगलवार को कर्ज चुकाएं तथा  मंगलवार के दिन किसी से पैसे उधार न लें।,

 सुबह-सुबह किये जाने वाले मंगल ग्रह के उपाय

  • प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी की पूजा आराधना करें।
  • नरसिंह भगवान  की पूजा आराधना करें।
  • प्रत्येक मंगलवार सुंदर कांड का पाठ करें।

 मंगल ग्रह के लिये व्रत

  • मंगल ग्रह के दोष को दूर करने के लिए और मंगल की शुभता प्राप्त के लिए मंगलवार के दिन उपवास रखें।

 मंगल ग्रह शांति के लिये दान करें

  • मंगल ग्रह से संबंधित वस्तुओं का दान मंगलवार को मंगल  ग्रह के नक्षत्रों (मृगशिरा, चित्रा , धनिष्ठा) में करें ।
  • मंगल ग्रह के शांति हेतु दान की वस्तुएँ- लाल मसूर, खांड, सौंफ, मूंग, गेहूँ, लाल कनेर का पुष्प, तांबा  एवं गुड़ आदि।

 मंगल ग्रह के लिए रत्न

  • मंगल ग्रह की शांति के लिए मूंगा रत्न को  स्वर्ण धातु में धारण करना चाहिए ।

 मंगल की शांति हेतु यंत्र

  • कुंडली में मंगल के अशुभ स्थिति मांगलिक दोष उत्पन्न हो जाता है, जिसकी वजह से शादी में, संतान प्राप्ति में, आदि की समस्याएं को मंगल यंत्र की स्थापना करके दूर किया जा सकता है। या मंगल यंत्र को मंगलवार के दिन मंगल के नक्षत्र में धारण करें।

 

  मंगल ग्रह की शांति के लिये रुद्राक्ष

  • मंगल के लिए तीन मुखी रुद्राक्ष  धारण करें । निम्न मंत्रो के द्वारा -
  • मंत्र " ॐ ह्रीं हूं नमः।
  • मंत्र " ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं सौं।।

 मंगल ग्रह की शांति के लिए मंत्र
  •  मंगल ग्रह  के  बीज मंत्र का यथासंभव  जाप करें। मंत्र - "ॐ क्रां क्रीं क्रौं सः भौमाय नमः!"

  • मंगल मंत्र का जाप 1000 बार करे । 

  •  इस मंत्र का जाप भी कर सकते हैं - "ॐ - अं-अंगारकाय  नमः" !
मंगल ग्रह शांति के उपयुक्त उपाय को विधि पूर्वक करने से आपको निश्चित रूप से मंगल देव का आशीर्वाद प्राप्त होगा, ऊर्जा और पराक्रम में वृद्धि के कारक मंगल देवता ही है । वैदिक शास्त्रों  में मंगल को पाप ग्रह की श्रेणी में रखा गया है। परंतु मंगल का प्रभाव सदैव अशुभ नहीं देखने को मिलता  है। मंगल ग्रह के अशुभ होने से ही  कुंडली में मंगल दोष पैदा होता है जो वैवाहिक जीवन को ज्यादा प्रभावित करता है। 
वैदिक ज्योतिष के अनुसार  मंगल ग्रह मेष तथा  वृश्चिक राशि का स्वामी होता है। अतः इन राशि वाले जातकों को मंगल को प्रसन्न करने के लिए मंगल ग्रह के टोटके या उपाय ज़रुर करने चाहिए। 

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

श्री हनुमान चालीसा : Do Really Need It? This Will Help You Decide!

What Everyone Must Know About Surya || सूर्य नमस्कार मंत्र, सूर्य देव को प्रसन्न करने के अचुक मंत्र

How to Do राहु ग्रह के शांति के आसान उपाय ?